अब कोई यूजर चाहे कितनी भी चतुराई कर लें, लेकिन पोर्न देखने (View Porn) वाले एक डिवाइस की नजरों से नहीं बच सकेंगें। इस डिवाइस का उपयोग अब पुलिस करने जा रही है। इस (Software) सॉफ्टवेयर युक्त यूएसबी डिवाइस को दिल्ली पलिस खरीद रही है। यह डिवाइस से कंप्यूटर से डिलीट किए जा चुके अश्लील कंटेंट हासिल कर लेगी। इसमें सबसे खास बात ये है कि यह डिवाइस दिल्ली पुलिस को विकसित देशों की पुलिस से भी आगे की लाइन में लाकर खड़ा कर देगी।

साइबर क्राइम से लडऩे में मदद Help fight cyber crime

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के मुताबिक यह डिवाइस साइबर क्राइम (Cyber Crime) से लडऩे के लिए खरीद रही है, लेकिन यह अनुमान लगाना काफी आसान है कि इस Device की बदौलत पुलिस को चाइल्ड सेक्स (Child Sex) देखने पर रोक लगाने के साथ-साथ रिवेंज पोर्न (Revenge Porn)और अपने शिकार को ब्लैकमेल करने के लिए विडियो(Video to blackmail), फोटो आदि का इस्तेमाल करने वाले सेक्स क्रिमिनल्स (Sex criminals)को पकडऩे में काफी मदद मिलेगी।

डिवाइस ऐसे वापस लाएगी डिलीट कंटेंट

सूत्रों के अनुसार इस डिवाइस का सॉफ्टवेयर कंप्यूटर का स्कैन कर अश्लील तस्वीरों(Porn pictures), विडियो (Video)और बातचीत (chit chat) का पता उस हालत में लगा लेगा जबकि इन्हें डिलीट(Delete) कर दिया गया हो। यह सॉफ्टवेयर (Software)चेहरों, शरीर के मांसल हिस्सों, शेप्स और कर्व्स को पहचानकर उनका विश्लेषण करता है, लेकिन इसका कोई सबूत नहीं छोड़ता कि किसी व्यक्ति का कंप्यूटर स्कैन (computer scan) हुआ है। इसकी यह खासियत वैसे मामलों में इसकी उपयोगिता और भी बढ़ा देती है जिनमें चुपचाप सबूत जुटाने की जरूरत होती है।

LEAVE A REPLY