juile-2-actress



रिलीज़ की तारीख: 6 अक्टूबर 2017 (भारत)
निर्देशक: दीपक शिवदासानी
निर्माता: दीपक शिवदासानी, पहलज निहलानी, विजय नायर

julie 2 movie review in hindi :  julie टाइटल पर कई फिल्मे बन चुकी है। जुली की कहानी फिल्मी दुनिया के काले सच को उजागर करती है इस फिल्म में किसी लड़की को फिल्मो में काम पाने के लिए क्या कीमत देनी पड़ती है को बताने की कोशिश है। इसके अलावा इस मूवी में कुछ खास नहीं है। जिन लोगो को सेक्सी और बोल्ड सीन लुभाते है उनके लिए यह फिल्म पैसा वसूल है। नेहा धूपिया ने भी जूली फिल्म से ही बॉलीवुड में एंट्री की थी। वो फिल्म हिट भी रही जिसका सबसे बड़ा कारण फिल्म में नेहा धूपिया ने जबरदस्त अंग प्रदर्शन किया था। राय लक्ष्मी स्टारर जूली २ में भी बोल्ड सीन और एक्सपोज़ की भरमार है इससे ज्यादा कुछ नहीं। इस फिल्म के रिलीज़ से पहले ही कुछ बोल्ड सीन्स इंटरनेट पर लीक हो गए थे जिससे इसकी अभनेत्री लक्ष्मी रॉय काफी दुखी हुई। लेकिन फिल्मो के पंडितो का मानना है की इससे फिल्म को नुक्सान नहीं बल्कि फायदा ही होगा।

आइये एक नज़र जूली 2 फिल्म की कहानी पर डालते है।

Juile 2 : इस फिल्म की कहानी जूली नाम की लड़की के इर्द गिर्द घूमती है। जूली एक गजब की सुन्दर एक ऐसी लड़की है। जिसका सपना फिल्मो के काम करके नाम और पैसा कमाना है। जूली बहुत ही सूंदर है। उसे ऐसा लगता है की वह उसकी ख़ूबसूरती के बल पर फिल्मो में आसानी से काम मिल जायेगा। वह मुंबई आती है और यहाँ आने पर उसको इस ग्लैमर वर्ल्ड का कला सच कास्टिंग काउच का सामना करना पड़ता है। उसके सामने दो रास्ते बचते है या तो वह फिल्मो में कैरियर बनाने का सपना छोड़ दे। या समझोता कर ले। आखिर जुली समझौता कर लेती है। वह फ़िल्मी दुनिया में बहुत जल्दी फेमस हो जाती है। पैसा शौहरत नाम खूब कमेटी है। शहर से लेकर पुरे देश में उसके करोडो फैंस बन जाती है।julie-2-movie

जूली 2 फिल्म की कहानी में मोड़

लेकिन इस कहानी में मोड़ तब आता है जब अचानक जूली को धमकी मिलने लगती है। की वह शहर छोड़ दे नहीं तो बुरा होगा। मार्किट में उस पर जान लेवा हमला होता है। पुलिस पहले इसे डकैती समझती है लेकिन एसीपी देवदत्त इसे सेलेब्रटी पर जान लेवा हमला मानते है और फिर छानबीन शुरू होती है। इस फिल्म की कहानी में कोई अलग चीज़ नहीं है कुछ नया नहीं है सिर्फ बोल्ड हॉट सीन की भरमार है। फिल्म निर्माता के अनुसार यह फिल्म एक सच्ची कहानी पर आधारित है। जो एक 90 के दशक में हिंदी फिल्मो में काम करने आयी थी। जिसने काफी कुछ झेलने, बी और सी ग्रैड फिल्मो में काम करने के बाद सॉउथ की फिल्मो में अपनी पहचान बनाई। हलाकि निर्माताओं ने उस अभिनेत्री के नाम को उजागर किसी भी तरह की परेशानी से बचने के लिए नहीं किया है।

राय लक्ष्मी एक साउथ फिल्मो की एक्ट्रेस है। जो जूली 2 फिल्म की लीड एक्ट्रेस है। उनका ध्यान सबसे ज्यादा अपने शरीर की नुमाइश पर ही लगता है। रवि किशन और पंकज त्रिपाठी अपने किरदारों में ठीक-ठाक लगे हैं। फिल्म की कहानी पर ध्यान देने की बजाये निर्देशक दीपक ने भी फिल्म में बोल्ड सीन की और ज्यादा फोकस किया है। इस फिल्म के गाने की भी कुछ खाश नहीं है। वो तभी अच्छे लगते है जब सीन सामने हो। कैमरा मैं की बात करे तो ऐसा लगता है की उनकी आंखे और कैमरा दोनों लक्ष्मी के जिस्म और उनके अतरंग दृश्यों पर से हटा नहीं पाए। अगर थोड़ा सा भी ध्यान फिम की कहानी पर फोकस किया जाता तो शायद कुछ अलग देखने को मिलता। खैर फिल्म उन्ही लोगो के मुताबिक है जो अतरंग सीन और सेक्सी सीन्स, बोल्ड फिल्मों के शौकीन है। उनके लिए यह फील ठीक ठाक है। इससे ज्यादा कुछ भी नहीं। फॅमिली के साथ भूलकर भी न देखे। क्यूंकि इसमें ऐसा कुछ नहीं है। क्युकी यह सिर्फ एक सेक्सी मसाला मूवी है।

इन्हे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY